सद्गुरुजी

आदमी चाहे तो तक़दीर बदल सकता है, पूरी दुनिया की वो तस्वीर बदल सकता है, आदमी सोच तो ले उसका इरादा क्या है?

529 Posts

5725 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 15204 postid : 736888

अडानी जी ने झूठ का गुब्बारा आखिर फोड़ ही दिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend


अडानी जी ने झूठ का गुब्बारा आखिर फोड़ ही दिया
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

लोकसभा चुनाव के लिए अपना प्रचार अभियान चलाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल जनता के बीच यह झूठा प्रचार करते रहे हैं कि भाजपा के पीएम पद प्रत्याशी नरेंद्र मोदी और अडानी के बीच गहरे निजी रिश्ते हैं,जिसके कारण अडानी मोदीजी को चंदे की बड़ी रकम देते हैं और यात्रा करने के लिए अपना विशेष विमान देते हैं,इसके बदले में मोदीजी ने उन्हें गुजरात में बेहद सस्ती दर पर जमीन दी है और मोदीजी के नेतृत्व वाली गुजरात सरकार ने उन्हें अलग से बहुत से विशेष फायदे पहुंचाए हैं.अडानी समूह के मालिक गौतम अडानी ने इन सब आरोपों को बेबुनियाद और झूठ का पुलिंदा करार दिया है.
अडानी समूह के चेयरमैन गौतम अडानी ने एक न्यूज़ चैनल से बातचीत करते हुए कहा कि-नरेंद्र मोदी और बीजेपी के नेता अडानी ग्रुप के विमानों का इस्तेमाल करते हैं,परन्तु अडानी ग्रुप ये विमान उन्हें मुफ्त में उपलब्ध नहीं कराती है,बल्कि बीजेपी और राज्य सरकार से बकायदा उसका किराया वसूलती रही है.उन्हें गुजरात में बेहद सस्ती दर पर जमीन मिलने के आरोपों पर सफाई देते हुए गौतम अडानी जी ने कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री एवं बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी से उनके निजी नहीं, बल्कि सिर्फ पेशेवर रिश्ते हैं और मोदीजी के नेतृत्व वाली गुजरात सरकार ने उन्हें अलग से कोई भी विशेष फायदा नहीं पहुँचाया है.
गौतम अडानी जी ने गुजरात में बेहद सस्ती दर पर जमीन मिलने की बात को भी खारिज करते हुए कहा कि-जब उन्होंने मुंदड़ा की जमीन ली थी, तब वह बिल्कुल बंजर और बेकार थी.उन्हें चिमन भाई पटेल और केशुभाई पटेल की सरकारों के समय जितनी सस्ती दर पर जमीन मिली उतनी सस्ती दर पर मोदीजी के दौर में नहीं मिली.टॉफी की कीमत पर यानि एक रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से किसानों की 45,000 एकड़ जमीन खरीदने के राहुल के आरोपों को झूठा बताते हुए अडानीजी ने कहा कि-मोदीजी के कार्यकाल में हमने 15 रुपये प्रति वर्ग मीटर की औसत दर से करीब 5,000 एकड़ जमीन हासिल किया है.’
उन्होंने इस बारे में पूरी सच्चाई बयान करते हुए कहा कि-’अडानी समूह ने गुजरात के तटीय शहर मुंदरा के निकट से जमीन अधिग्रहण का काम 1993 से शुरू किया. वर्तमान में कंपनी के पास 15,946 एकड़ कुल जमीन है.इसमें से केवल एक तिहाई ही मोदी के कार्यकाल में खरीदी गई है और इसमें से एक भी एकड़ जमीन किसानों से नहीं ली गई है.’उन्होंने बताया कि-’जब हमने मुंदरा में जमीन अधिग्रहण करना शुरू किया तो तत्कालीन चिमनभाई पटेल ने दस पैसे प्रति वर्ग मीटर की दर से जमीन दी.केशुभाई पटेल की सरकार ने एक रुपये प्रति वर्ग मीटर और शंकर सिंह वाघेला सरकार ने डेढ़ रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर से हमें जमीन बेचा.’
विकास की मिसाल बने गौतम अडानी अपनी वर्षों की सतत मेहनत से शून्य से अरबपति बने हैं.बंदरगाह और ऊर्जा क्षेत्र के कारोबार में शामिल अडानी समूह ने गुजरात के तटीय शहर मुंदरा के निकट 20 वर्ष पहले बंजर और गैर कृषि योग्य भूमि का अधिग्रहण किया था.उन्होंने पुल,रोड,पानी.बिजली,सीवर,स्कुल,कालेज आदि का उस क्षेत्र में विकास कर उसे एक आधुनिक शहर का स्वरुप प्रदान किया.हमेशा जनता से झूठ बोलने वाले राहुल और केजरीवाल जैसे नेता लोगों को गुमराह करने की कोशिश करते हुए लोग बीस साल पहले वाली बंजर और कृषि के अयोग्य भूमि के मूल्य की तुलना आज के विकसित और सभी सुविधाओं से युक्त जगह से कर रहे हैं.
अडानी समूह ने गुजरात में न सिर्फ अनगिनत लोगों को रोजगार प्रदान किया है बल्कि वो हर वर्ष करोड़ों रूपये जनकल्याणकारी कार्यों पर खर्च करती है.अडानी ग्रुप ने केवल गुजरात सरकार के साथ ही काम नहीं किया है,बल्कि अपनी परियोजनाओं के लिए राजस्थान, हरियाणा, महाराष्ट्र के साथ-साथ छत्तीसगढ़ और ओडिशा में भी भूमि अधिग्रहण कर विकास का कार्य किया है.उस समय वहां पर कांग्रेस की सरकार थी.इसकी चर्चा राहुल और केजरीवाल क्यों नहीं करते हैं ?बहुत समय तक चुप रहने के बाद अंतत:अडानी जी ने सारी सच्चाई बयान कर राहुल गांधी और अरविन्द केजरीवाल के आरोपों का झूठा गुब्बारा फोड़ दिया है.
गौतम अडानी जी साफ कहते है कि हमें किसी राजनीतिक पार्टी से जोड़ना गलत है.मोदीजी तो क्या हम किसी भी राजनितिक नेता से जुड़े नहीं हैं और न ही हमने किसी भी पार्टी को इस बार चंदा नहीं दिया है.जनता को राहुल गांधी और अरविन्द केजरीवाल जैसे झूठ बोलने वाले नेताओं से सचेत रहना चाहिए और उनके झूठे झांसे में न आते हुए अपना कीमती वोट इस बार केंद्र में एक स्थिर,ईमानदार और सुशासन करने की क्षमता रखने वाले दल को ही देना चाहिए.जनता को किसी एक दल को स्पष्ट बहुमत प्रदान करना चाहिए.चुनाव में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत न मिलने पर राजनितिक सौदेबाजी,हिंसा अराजकता,मंगाई और भ्रष्टाचार को और बढ़ावा मिलेग,जिससे समूचे देश व आमजनता की बहुत दुर्गति होगी..
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
आलेख और प्रस्तुति=सद्गुरु श्री राजेंद्र ऋषि जी,प्रकृति पुरुष सिद्धपीठ आश्रम,ग्राम-घमहापुर,पोस्ट-कन्द्वा,जिला-वाराणसी.पिन-२२११०६.
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (13 votes, average: 4.92 out of 5)
Loading ... Loading ...

6 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

ranjanagupta के द्वारा
April 29, 2014

आदरणीय सद्गुरु जी !बहुत आभार आपको प्रतिक्रिया देते ही अचानक दो हप्ते से जो समस्या थी वह तुरंत दूर हो गयी !चलिए अच्छा है ,कुछ समझ आ जाये इनको !आपका लेख बिलकुल सही है ,लोगो ने मर्यादा छोड़ दी !ऐसी राज नीति नीचता किकभी नही देखी !!साभार !!

ranjanagupta के द्वारा
April 29, 2014

सदगुरु जी बहुत आभार !अब काफी ठीक हो गया !शायद कुछ समझ आगयी !बहुत अच्छा मोदी बिरोधियो को जवाब है आपका !आपके लेख सच की तस्वीर है जिसे जोकहना है कहने दीजिये !!साभार !!

sadguruji के द्वारा
April 30, 2014

आदरणीया डॉक्टर रंजनाजी ! हार्दिक अभिनन्दन ! पोस्ट की सराहना के लिए हार्दिक धन्यवाद !

sadguruji के द्वारा
April 30, 2014

आदरणीया डॉक्टर रंजनाजी ! हार्दिक अभिनन्दन ! पोस्ट की सराहना के लिए हार्दिक धन्यवाद ! सच का साथ देने का मन बना लेने पर फिर नहीं सोचना चाहिए ! किसी को अधूरा सहयोग नहीं करना चाहिए ! आगे हरि इच्छा !

nishamittal के द्वारा
April 30, 2014

राजनीति के दुष्चक्र पेचीदा हैं ,ईश्वर करे सब देश हित में हो

sadguruji के द्वारा
May 1, 2014

आदरणीया निशा मित्तलजी.ब्लॉग पर आकर प्रतिक्रिया देने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद.


topic of the week



latest from jagran