सद्गुरुजी

आदमी चाहे तो तक़दीर बदल सकता है, पूरी दुनिया की वो तस्वीर बदल सकता है, आदमी सोच तो ले उसका इरादा क्या है?

511 Posts

5631 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 15204 postid : 1264607

सर्जिकल स्ट्राइक: बिल्कुल सही, परंतु अब भारत को सचेत रहना होगा

  • SocialTwist Tell-a-Friend

दिलबर के लिये दिलदार हैं हम,
दुश्मन के लिये तलवार हैं हम
मैदां में अगर हम डट जाएं,
मुश्किल है कि पीछे हट जाएं
ये देश है वीर जवानों का,
अलबेलों का मस्तानों का
इस देश का यारों क्या कहना,
ये देश है दुनिया का गहना

भारत ने इस बोल को सही साबित कर दिया है. मोदी विरोधी नेता इल्जाम लगा रहे थे कि मोदी सरकार नाकाम हो रही है. यह सरकार भी बाक़ी सरकारों की तरह ही नकारा है. लोकसभा चुनाव के समय पाकिस्तान को करारा सबक सिखाने के जो वादे किए गए थे, वो सत्ता सम्भालने के दो साल बाद भी पूरे नहीं किए जा रहे हैं और प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी जो 56 इंच सीने वाली शक्तिशाली नेता की छवि भारतीय जनमानस के सामने पेश की है, उस पर वो किसी भी तरह से खरे नहीं उतर रहे हैं. पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित उडी हमले में बहुत से जवानों की शहादत के बाद पीएम मोदी ने कई बार स्पष्ट रूप से कहा था कि उरी में शहीद हुए 18 जवानों का बदला लिया जाएगा. देशवासियों को विश्वास था कि मोदी जी कुछ न कुछ जरूर करेंगे, किन्तु बहुत से लोग, खासकर शहीद सैनिकों के परिजन इस बात से अधीर हो उठे थे कि मोदी जी आखिर कब बदला लेंगे? अगर वो यूं ही हाथ पर हाथ रखकर बैठे रहे, तो न जाने और कितने जवान शहीद होते रहेंगे?
8093-onypofyesn-1474732836
अपने शासनकाल में पाकिस्तान के खिलाफ कुछ न कर पाने वाले कांग्रेसी नेता मोदी का सबसे ज्यादा मख़ौल उड़ा रहे थे. कोई उन्हें सत्ता छोड़ गुजरात जाने की बात करता था तो कोई उन्हें कागजी शेर कहता था. कांग्रेस के सबसे ज्यादा दिशाहीन और असफल नेताओं में से एक दिग्विजय सिंह ने रविवार को ट्विटर पर लिखा- ‘मोदी जी ने अपनी जबानी मिसाइलों से पाकिस्तान को तबाह कर दिया. जागो भक्तों जागो. मोदी बदल गया है.’ उन्होंने आगे लिखा- ‘मोदी ने केरल में जाकर पाकिस्तान को करारा जवाब 56 इंच के सीने वाले की तरह नहीं बल्कि 56 इंच जबान वाले की तरह से दिया.’ पीएम मोदी ने बड़बोले कांग्रेसी व अन्य विपक्षी नेताओं को शीघ्र ही अपनी 56 इंच के सीने वाली करनी से मुंहतोड़ जबाब भी दे दिया. बुधवार की रात को भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा के पार जाकर पाक के कब्जे वाले कश्मीर में 7 आतंकी ठिकानों को निशाना बनाकर तबाह करते हुए लश्कर-ए-तैयबा के 40 आतंकियों को ढेर किया है.

पीएम मोदी की सत्ता और देश-दुनिया भर में असीम लोकप्रियता से दिन-रात जलने वाले दिग्विजय सिंह, मणिशंकर अय्यर और राहुल गांधी समेत तमाम विरोधी नेताओं पर सोशल मीडिया में जमकर प्रहार हुआ है. प्रज्ञा भूषण ने बहुत सही लिखा, “इस घड़ी उन लोगों को बरनोल की ज़रूरत है जिन्होंने 56 इंच के सीने पर दिन-रात सवाल खड़े किए थे.” चेतन पटोले ने भी बहुत अच्छा लिखा, “सभी भारतीयों के लिए गर्व का समय है. हमारी सेना को सलाम है. भारत शेर है और मोदी जी ने साबित किया है कि वे सिर्फ़ बात ही नहीं करते हैं.” पकिस्तान को सबक सिखाने के बाद सारे देशवासी भारतीय सेना को सलाम कर रहे हैं और पीएम मोदी को सही फैसला लेने के लिए धन्यवाद दे रहे हैं. आतंकियों के खिलाफ उनके अड्डे पर जाकर सैन्य कार्यवाही न करने के नकारा चक्र से हम बाहर निकल चुके हैं. इस सर्जिकल आपरेशन या सैनिक कार्रवाई का साहसिक सन्देश न सिर्फ पाकिस्तान व वहां के आतंकवादियों, बल्कि अंतरराष्ट्रीय बिरादरी तक भी पहुंचेगा.
surgical-strike-620x400
पिछले कई दशकों से पाकिस्तान ने आपने पालेपोसे हुए आतंकियों का सहारा लेकर भारत में आतंक फैलाने की अति कर दी थी. आखिर कब तक हम कायर, सहनशील और दब्बू बने रहते. पाकिस्तान और उसके यहाँ डेरा जमाये आतंकियों को मुंहतोड़ जबाब देकर मोदी और भारतीय सेना ने बिल्कुल सही काम किया है. सारे देशवासी वाहवाही कर रहे हैं. उधर, पाकिस्तानी सेना और सरकार ने किसी भी तरह के सर्जिकल स्ट्राइक से इनकार किया है. वो दो दिन से भारतीय सेना और मीडिया के दावों का खंडन करने में ही जुटी है. उसके मुंह पर तो आतंक को दुनिया भर में बढ़ावा देने की कालिख पुती है, इसलिए अब वो किस मुंह से कहे कि भारतीय सेना ने उसके देश में घुसकर कई आतंकी शिविर तबाह कर दिए हैं. पाकिस्तान इस सर्जिकल स्ट्राइक का आने वाले कुछ दिनों में किसी बड़े आतंकी हमले के जरिये कायराना जबाब जरूर देगा. हमने उस जैसे जहरीले सांप को घायल करके छोड़ दिया है, अब उसके घातक वार से हमें बचना भी होगा. अंत में इस बोल के जरिये वतन के लिए शहीद होने वालों का अंतिम सन्देश-

खींच दो अपने खूँ से ज़मी पर लकीर
इस तरफ आने पाए न रावण कोई
तोड़ दो हाथ अगर हाथ उठने लगे
छू न पाए सीता का दामन कोई
राम भी तुम, तुम्हीं लक्ष्मण साथियो
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियो
कर चले हम फ़िदा जानो-तन साथियो
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियो

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
आलेख और प्रस्तुति= सद्गुरु श्री राजेंद्र ऋषि जी, प्रकृति पुरुष सिद्धपीठ आश्रम, ग्राम- घमहापुर, पोस्ट- कन्द्वा, जिला- वाराणसी. पिन- २२११०६

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~



Tags:     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (12 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran